Thank You so much for landing here, and giving your precious time to read my blog.
Your comments will appreciate me more, so feel free to drop your views on my post :)

Search Books

Thursday, 26 July 2012

ज़िन्दगी एक परीक्षा है . . .

"ज़िन्दगी एक  परीक्षा है . . ."

नन्हें क़दम चलकर ,,रोज़ स्कूल बैग उठाकर  नये दोस्तों से मिलने में मज़ा  तो था... लेकिन teacher  ने मुझसे कुछ सवाल पूछ कर रिपोर्ट कार्ड पर जब रिमार्क लिखा तब समझ आया "ज़िन्दगी एक  परीक्षा है . . ."

oral से  written में बदल गई एक दिन ये परिक्षा और सवालों की कठिनाइयां और भी बढती चली गयी..  मम्मी  हर शाम  पढ़ाने  बैठती थी और पढ़ते टाइम मस्ती  करने पर पापा की डाट पड़ती थी..बड़े होते-होते सोचा करते थे सब  दोस्त मिल के,, की  कब स्कूल  ख़तम  होगा और उसी के  साथ ये परीक्षाये. . .

वो घबराहट भरी रातें और वो सवालों से भरे तीन घंटे,, जहा इधर उधर मुड़ने भी नहीं दिया जाता था और गलती से कुछ आवाज़ आ जाने पर  "I want pin drop silence in the class!!" सुनाई  देता था.. तब समझ आया "ज़िन्दगी एक  परीक्षा है . . ."

जिस दिन का इंतज़ार किया था इतने साल, वो भी आ गया था ... 12th class का आखरी पेपर पर इन्तेहाँ तो अभी और भी बाकि था .. जाने क्यों कोई खुश नहीं था उस दिन ,,  शायद सबके दिलों में बिछड़ जाने का गम था ... अब तो सवाल और भी कठिन हो गए और फिर समझ आया की "ज़िन्दगी एक  परीक्षा है . . ."

 नया college, नए लोग ,कुछ अजीब से नियम और सर पर teachers से जादा seniors का दबाव ...याद था अभी भी जब सारे दोस्त एक साथ अगली क्लास में जाया करते थे लेकिन  आज  ये क्या  हुआ??
कुछ तो आगे बढ़ गए पर जाने कितने पीछे रह गए ...समझ नहीं आया पहली बार की अपने लिए ख़ुशी मनाउ या दुसरो के साथ उनका गम बाटू ?
पर ज़िन्दगी एक  परीक्षा है . . .

आज मम्मी क्यूँ  शाम को बेठ के पढ़ाती नहीं ?? और क्यों पापा डाटा भी  नहीं करते  अब ??
जेसे तेसे college भी ख़तम  हो गया,, फिर वही परिस्थिति एक बार,, दोस्तों से बिछड़ जाने का गम ...वो पल जो कुछ आसुओं के साथ बह गए और अपने साथ ये वादा दे गए की अक्सर मिला करेंगे.... पर फिर किसी ने कह दिया , असली इन्तेहां तो अब शुरू हुआ है . . . 

तो और आगे क्या कहू ??
ज़िन्दगी तो सिर्फ और सिर्फ एक परीक्षा है.... जो पास हो गया वो आगे बढ़  जाता है और फ़ैल होने वाला पीछे रह जाता है////


 ~नूपुर ~

13 comments:

  1. हर दिन एक नया पेपर होता है नूपुर......
    और सिर्फ पास नहीं होना होता....अव्वल आना होता है....
    मगर ये इतना मुश्किल नहीं....
    सच्चाई रहे,प्यार रहे,कशिश हो,ख्वाब हों थोड़े से,और चुटकी भर मेहनत......... 10/10
    :-)
    bless u dear

    anu

    ReplyDelete
  2. Wah.... 10/10
    Apne to marks bhi de diye.... :D

    ReplyDelete
  3. behtreen aur prabhaavshali prstuti....

    ReplyDelete
  4. A condensed version of English translation will help those who do not have proficienty in Hindi. Thanks.

    ReplyDelete
  5. Damn truth ... life is a exam .. sum pass it with too high marks sum fail and sum pss by grace.. (gods grace)

    ReplyDelete
  6. Damn truth ... life is a exam .. sum pass it with too high marks sum fail and sum pss by grace.. (gods grace)

    ReplyDelete
  7. @sushma 'आहुति'
    Dhanyawaad....

    @SG
    Ya sure...

    @נαyєѕн кσтнαяι
    Ya that's the same i feel :)

    ReplyDelete
  8. जिंदगी की एक परीक्षा है ......सही कहा ।


    सादर

    ReplyDelete
  9. that's true yaar life is a bunch of exams
    but hum to exam dene se matlab rakhte hai pass ho gye to good nhi to try again bcoz failure is a part of experience
    again nice written :)

    ReplyDelete
  10. When reading this blog... I really feel once again my past thanx

    ReplyDelete
  11. Thnax for comming hre jitendra....

    ReplyDelete